क्या यह तस्वीर प्रियंका गांधी द्वारा प्रवासियों मजदूरों को ले जाने के लिए व्यवस्थित की गई बसों की है? जाने सच

0 581

सोशल मीडिया पर बसों के बेड़े की एक तस्वीर को इस दावे के साथ साझा किया जा रहा है कि यह कोरोनावायरस लॉकडाउन के बीच देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासियों के लिए कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी द्वारा आयोजित बसों की है।

“यह रेल के डिब्बे नही यह श्रीमती प्रियंका गांधी जी का मजदूरों को उनके घर तक पौहचना के लिए किया गया बसों का इंतज़ाम है अब उत्तर प्रदेश सरकार ने इन्हें चलाने की अनुमति दे दी है कांग्रेस का हाथ हर जरुरतमंदो के साथ जय काँग्रेस,” कैप्शन में लिखा गया है.

आप यहाँ और यहाँ अधिक पोस्ट देख सकते हैं।

ALSO READ:  फैक्ट चेक: क्या ये तस्वीर भारत में प्रवासी संकट से सम्बंधित हैं? जानिए सच

फैक्ट चेक

न्यूज़ मोबाइल ने उपरोक्त तस्वीर की जाँच की और पाया कि यह पुराणी है।

रिवर्स इमेज सर्च के माध्यम से छवि डालने पर, हमें NDTV द्वारा दिनांक 28 फरवरी, 2019 को एक लेख मिला, जिसका शीर्षक है, “UP Eyes Guinness Record For “Largest Parade Of Buses.”

फाइनेंशियल एक्सप्रेस द्वारा प्रकाशित एक लेख के अनुसार, यूपी सरकार ने बसों की सबसे बड़ी परेड के लिए गिनीज रिकॉर्ड बनाया। रिकॉर्ड बनाने के लिए कुंभ लोगो के साथ कुल 500 बसों का उपयोग किया गया था। प्रयागराज में बसों ने 3.2 किमी का विस्तार किया।

इस बीच, 18 मई को, यूपी सरकार ने प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा प्रवासी श्रमिकों को ले जाने के लिए 1,000 बसों की पेशकश स्वीकार कर ली।

उपरोक्त जानकारी से, हम यह निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि तस्वीर पुरानी है और प्रियंका गांधी द्वारा हाल ही में प्रवासी श्रमिकों को ले जाने के लिए 1,000 बसों की पेशकश से संबंधित नहीं है।
यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 88268 00707 पर व्हाट्सएप करें।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram